Radha Devi Aarti Lyrics in Hindi

Radha Devi Aarti Lyrics in Hindi

देवी राधिका आरती


आरति श्रीवृषभानुलली की देवी राधिका की सबसे प्रसिद्ध आरती में से एक है। यह प्रसिद्ध आरती देवी राधा से सम्बन्धित अधिकांश अवसरों पर गायी जाती है।

॥ देवी राधिका आरती ॥


आरति श्रीवृषभानुलली की।सत-चित-आनन्द कन्द-कली की॥
भयभन्जिनि भव-सागर-तारिणि,पाप-ताप-कलि-कल्मष-हारिणि,
दिव्यधाम गोलोक-विहारिणि,जनपालिनि जगजननि भली की॥

आरति श्रीवृषभानुलली की।
सत-चित-आनन्द कन्द-कली की॥

अखिल विश्व-आनन्द-विधायिनि,मंगलमयी सुमंगलदायिनि,
नन्दनन्दन-पदप्रेम प्रदायिनि,अमिय-राग-रस रंग-रली की॥

आरति श्रीवृषभानुलली की।
सत-चित-आनन्द कन्द-कली की॥

नित्यानन्दमयी आह्लादिनि,आनन्दघन-आनन्द-प्रसाधिनि,
रसमयि, रसमय-मन-उन्मादिनि,सरस कमलिनी कृष्ण-अली की॥

आरति श्रीवृषभानुलली की।
सत-चित-आनन्द कन्द-कली की॥

नित्य निकुन्जेश्वरि राजेश्वरि,परम प्रेमरूपा परमेश्वरि,
गोपिगणाश्रयि गोपिजनेश्वरि,विमल विचित्र भाव-अवली की॥

आरति श्रीवृषभानुलली की।
सत-चित-आनन्द कन्द-कली की॥

Radha Devi Aarti Lyrics in English

Featured Post

Mahashivratri 2024 Date

Maha Shivaratri 2024 Date, Story, Importance MahaShivaratri 2024 Date - 8th March 2024, Friday . Mahashivratri - Festival of God Shiva...