Rani Sati Dadi Aarti Lyrics in Hindi

Rani Sati Dadi Aarti Lyrics in Hindi

राणी सती की आरती


जय श्री राणी सती मैया राणी सती की सबसे प्रसिद्ध आरती है। यह प्रसिद्ध आरती राणी सती से सम्बन्धित अधिकांश अवसरों पर गायी जाती है।

॥ श्री राणी सती जी की आरती ॥


जय श्री राणी सती मैया,जय जगदम्ब सती जी।
अपने भक्तजनों कीदूर करो विपती॥

जय श्री राणी सती मैया।

अपनि अनन्तर ज्योति अखण्डित,मंडित चहुँककूंभा।
दुरजन दलन खडग की,विद्युतसम प्रतिभा॥

जय श्री राणी सती मैया।

मरकत मणि मन्दिर अति मंजुल,शोभा लखि न बड़े।
ललित ध्वजा चहुँ ओर,कंचन कलश धरे॥

जय श्री राणी सती मैया।

घण्टा घनन घड़ावल बाजत,शंख मृदंग घुरे।
किन्नर गायन करते,वेद ध्वनि उचरे॥

जय श्री राणी सती मैया।

सप्त मातृका करें आरती,सुरगम ध्यान धरे।
विविध प्रकार के व्यंजन,श्री फल भेंट धरे॥

जय श्री राणी सती मैया।

संकट विकट विदारणी,नाशनी हो कुमति।
सेवक जन हृदय पटले,मृदुल करन सुमति॥

जय श्री राणी सती मैया।

अमल कमल दल लोचनी,मोचनी त्रय तापा।
दास आयो शरण आपकी,लाज रखो माता॥

जय श्री राणी सती मैया।

श्री राणीसती मैयाजी की आरतीजो कोई नर गावे
सदनसिद्धि नवनिधि,मनवांछित फल पावे॥

जय श्री राणी सती मैया।


Rani Sati Dadi Aarti Lyrics in English

Featured Post

Kamada Ekadashi 2024 Date

Kamada Ekadashi 2024 Date Chaitra Shukla Paksha Ekadashi, also known as Kamada Ekadashi (कामदा एकादशी), is observed one day after Chaitra Na...